Discover and read the best of Twitter Threads about #दलित

Most recents (5)

एक #दलित_मुख्यमंत्री बर्दाश्त नही हो रहा है, इस पर अनेकों लोगो के बयान आ गये और लाखों #कोंगिये_फेसबुकियों की बकवास सुनने और पढने को मिल गयी।

#देश_और_हिन्दू_विरोधियों के हिसाब से #दलित तो सिर्फ वो ही हो सकता है, जो एक #ईसाई होकर भी सिख बन कर रहता हो।

उन लोगों के द्वारा (1/13)
देश के #प्रथम_नागरिक माननीय राष्ट्रपति जी #दलित नही माने जा रहे है। #सन्त_रविदास_जी_महाराज और #वाल्मीकि_जी को हिन्दू समाज तो उन्हें #आदरणीय मानता है, लेकिन #हराम_की_औलादे उन्हें भी नही मानती।

सन्त रविदास जी जिन्हें #रैदास भी कहा जाता है। ईस्वी वर्ष 1376-77 के #माघ माह (2/13)
की #पूर्णिमा को जन्मे थे। इन के पिता शूद्र थे तो जाहिर है ये भी शूद्र थे, #शूद्र, जो कि वर्तमान हिसाब से #दलित हुये।

पिता श्री संतोखदास अपने नगर के सरपंच भी थे और प्राकृतिक तौर पर मृत पशुओं का चमड़ा उतार कर चप्पल/जूते बनाते थे।

गौरतलब बात ये है कि इनके गुरु का नाम है, (3/13)
Read 13 tweets
चन्नी छाप..!!

गजब की #दलिताई है भाई। राज्य के मुख्यमंत्री पद पर बैठा व्यक्ति, सारे संसाधनो, स्टेट की सर्वोच्य शक्तियों से लैस, सत्ता की बागडोर थामने के बाद भी #दलित ही रह जाता है..

देश का प्रथम व्यक्ति, भारत गणराज्य का राष्ट्रपति, अंगरक्षको के लंबे चौडे लाव लश्कर, (1/7)
राष्ट्रपति भवन जैसी आरामगाह मे रहने वाला, देश के सर्वोच्य पद को सुशोभित करने के बावजूद भी #दलित रह जाता है।

दलित मुख्यमंत्री, दलित राष्ट्रपति, दलित पार्टी अध्यक्ष के बाद अब देखने को बाकी ही क्या रह गया है?

दलित जज, दलित डाॅक्टर, दलित अंतरिक्ष यात्री, दलित साईंटिसिट, (2/7)
दलित पर्वतारोही, दलित बिजनेसमैन, दलित डायरेक्टर जनरल आफ पुलिस, दलित जनरल, दलित चीफ आफ डिफेंस स्टाफ..?

जिस बेशर्मी से सार्वजनिक जीवन मे सर्वोच्य पदो पर बैठने के बावजूद, कुछ लोग #दलित होने का मोह नही छोड पाते। उसे देखकर तो यही लगता है कि अब दलित इंस्पेक्टर, दलित सिपाही, (3/7)
Read 7 tweets
आजकल सड़कों पर नाजायज़ कब्ज़ा कर के धरना प्रदर्शन का चलन ज्यादातर देखने को मिल रहा है। जो कि असल में मोदी जी को मिले बहुमत का दादागीरी से दमन है और हिंदुत्ववादियों की सरकार के प्रति उनकी खीज और घृणा आ सूचक है।

असल मे ये धरना स्टाइल मिडल ईस्ट देशों से आयातित इस्लामी मुल्क (1/14)
स्टाइल धरना प्रदर्शन है जिसमे, धरना लंबा खींचो, सड़कों को जाम करो, लोगों को परेशान करो और सरकार पर लाठीचार्ज या गोलियां बरसाने का दबाव डालो जैसी विकृत सोच शामिल है।

ऐसे धरनों की शुरुआत हुई थी तहरीर चौक से, तहरीर चौक के बाद पूरे मिडिल ईस्ट और अफ्रीका के मुस्लिम देशों में (2/14)
जैस्मिन रिवॉल्यूशन हुआ और बड़े बड़े तानाशाहों की सत्ता उखड़ गई। इसके बाद तहरीर चौक टाइप का प्रोटेस्ट पाकिस्तान के नेताओं ने भी इंपोर्ट कर लिया और बार-बार इसका प्रदर्शन इस्लामाबाद की सड़कों पर देखने को मिला। भारत में भी शाहीनबाग धरना प्रदर्शन इसकी जीती जागती तस्वीर थी।
(3/14)
Read 14 tweets
कुछ महीनों पहले हाथरस में प्रेम प्रसंग के एक आपसी झगड़े में मरी एक लड़की की लाश करोड़ो में बिकी।

घर वाले बेटी के दुख में छाती पीटना भूल, Cheque और Cash गिनने में व्यस्त हो गये।

मार्केट की माँग के मुताबिक़ चार लाईन के एक बयान में 20-20 बार #दलित लिखने वाले बड़े स्क्रिप्ट (1/11)
राईटर हाथरस में Over Time पर लग गये।

रातों-रात लाश के इतने नक़ली रिश्तेदार पैदा हो गये जिन्हें गाँव या पास पड़ोसवालो ने तो छोड़ो... खुद उस लड़की के परिवार वालो ने भी अपने जिवन में पहली बार देखा...

रातोंरात उस लाश की भाभी को मिडीया की ननदें घेर कर बैठ गई...

तो लड़की (2/11)
की माँ को राजनिती की भाभियाँ घेर कर बैठ गई..

बड़े-बड़े राजनैतिक सेठ और सेठानियाँ भी य्ये बड़ी बड़ी गाड़ियों में अपने दास दासियों के साथ फ़ोटू हिचाने आऐ.. और खुब गले लिपट-लिपट कर रोये.. और HD और DigitalDOLBY से कम एक भी विडीयो नही बना

आप मानो या ना मानो पर अकेले (3/11)
Read 11 tweets
m.facebook.com/groups/2534767…
1/n.Respectabe पंतप्रधान नरेंद्र मोदी जी @narendramodi और माननीय
President @rashtrapatibhvn
उत्तरप्रदेशमे योगी?सरकारके regime
के under जो कुछ चलरहा है, वो आप
दोनोंको मंजूर है?
आप दोनोंका
जो हो रहा है,उसके खिलाफVeryVery StrongAction
लेना,कुछ फर्ज नही बनता?
2/n.योगी का मतलब जानते हो?
मराठीमे एक "म्हण""phrase"आहे
"नाव सोनुबाई आणि हाती कथिलाचा वाळा"
योगी तो भोगी है.भगवी वस्त्र पेहने कोई योगी या आस्तिक नही बनता.
भगवान माननेवाले भगवान क्या अंधा समझते है?
योगीकी संपत्तीदेखो.आसानीसेकोई इतनीसंपत्ती बना नही पायेगा
संपत्ती बनानेकेलिये किसका
3/n.साथ लेना पडता है.और साथ लिया
तो साथ देनाभी पडला है.
आप ग्यानी है.समझगये होंगे.किसका साथ लिया होगा?और किनको साथ देनी
पडती होगी?
मराठी मे और एक कहावत है
"आल अंगावर की घेतलं शिंगावर"
शिंगावर लेनेके लिये, Encounter के
स्पेशालिस्टभी सर्विस देनेकेलिये हाजीर है
जबBJPका राजआया सोचाथा
Read 12 tweets

Related hashtags

Did Thread Reader help you today?

Support us! We are indie developers!


This site is made by just two indie developers on a laptop doing marketing, support and development! Read more about the story.

Become a Premium Member ($3.00/month or $30.00/year) and get exclusive features!

Become Premium

Too expensive? Make a small donation by buying us coffee ($5) or help with server cost ($10)

Donate via Paypal Become our Patreon

Thank you for your support!