Discover and read the best of Twitter Threads about #नवरात्रि

Most recents (4)

#नवरात्रि

२ अप्रैल २०२२ से नवरात्र आरम्भ हो रहे हैं।

हम सनातनी वर्ष में दो बार नवरात्रि का पर्व मनाते हैं। एक चैत्र नवरात्रि, जब हिन्दू नववर्ष भी प्रारंभ होता है। दूसरा शारदीय नवरात्र, जो आश्विन माह में मनाया जाता है। इसके अलावा वर्ष में दो बार गुप्त नवरात्र भी होते हैं (1/3)
जो कि आषाढ़ व माघ महीने में मनाए जाते हैं।

गुप्त नवरात्रि में मुख्यतः शक्ति के सिद्ध उपासकों व तांत्रिक विद्या के साधकों द्वारा व्रत व साधना की जाती है।

संसार की रक्षा के लिए विषपान करने वाले महादेव की अर्धांगिनी शक्ति व धर्म स्थापना के लिए असुरों का रक्तपान करने (2/3)
वाली भगवती की आराधना का पर्व है नवरात्र।

#जय_माता_दी

t.me/modified_hindu…

#साभार
(3/3)
Read 4 tweets
🚩सनातन सभ्यता और परम्परायें🚩

ये तय करना लगभग नामुमकिन है कि एक चक्र (सर्किल) शुरू कहाँ से हुआ और ख़त्म कहाँ पर। इस कारण शाक्त परम्पराओं को देखेंगे तो कठिनाई होगी। बरसों मैकले मॉडल की पढ़ाई और ईसाई नियमों पर बने कानूनों के कारण अवचेतन मन विविधता को
👇👇2⃣
स्वीकार करने में आनाकानी शुरू कर सकता है। शाक्त परम्पराओं में कुछ आदि काल से चली आ रही लोक-परम्पराएं हैं, कुछ तांत्रिक मत से आती हैं, और कुछ सनातन वैदिक। देवी की उपासना भारतीय उपमहाद्वीप में सबसे लम्बे समय से जीवित है। स्त्री भी देवी हो सकती है,
👇👇3⃣
ऐसा मानने वाली दूसरी सभ्यताएं मिट गयीं, या मिटा डाली गयीं।

सबसे लम्बे समय तक परम्पराएं कैसे चलती हैं इसका उदाहरण आपको लोटे में दिख जाएगा। भारत के कई क्षेत्रों में पानी पीने या रखने के लिए जो लोटा होता है, उसके सबसे पुराने नमूने हड़प्पा-मोहनजोदड़ो की सिन्धु
👇👇4⃣
Read 23 tweets
#मातंगी देवी #गुप्त #नवरात्रि की नौवीं महाविद्या हैं । कला संगीत, तंत्र तथा मन की देवी एकमात्र ऐसी है जिनके लिए व्रत नहीं रखा जाता है। यह केवल मन और वचन से ही तृप्त हो जाती हैं।
विद्या और वाणी की अधिष्ठात्री हैं , इनका स्वरूप मंगलकारी है ।
मातंगी देवी श्री लक्ष्मी का ही स्वरूप हैं,पशु, पक्षी, जंगल, आदि प्राकृतिक तत्वों में उनका वास होता है।मुनि #मातंग की पुत्री के रूप में जन्म लेने के कारण उनका नाम मातंगी पड़ा। देवी गहरे नीले रंग या श्याम वर्ण की हैं। अर्ध चन्द्र धारण करती हैं,उनको कमल का आसन भी प्रिय है।
रत्नमय सिंहासन पर आसीन
चतुर्भुजी देवी गुंजा के बीजों की माला धारण करती हैं।दायें हाथों में वीणा तथा मानव खोपड़ी धारण कर रखी हैं तथा बायें हाथों में खड़ग धारण करती हैं।तोते हर समय उनके साथ रहते हैं जो वाणी और वाचन के प्रतीक हैं।
Read 4 tweets
1/n

#SaraswatiDarshan #सरस्वतीदर्शन

As a tribute to the नारी शक्ति of the Indian Classical Music, starting a special curated thead of the legendary women musicians.

Note - Names are NOT in any specific order.

#Navratri #Navratri2020 #नवरात्रि
#Navaratri #navaratri2020 Image
2/n

#SaraswatiDarshan #सरस्वतीदर्शन

Padma Bhushan गान-हिरा #HirabaiBarodekar ji (29 May 1905 - 20 Nov 1989), the legendary vocalist/guru of the #Kirana gharana, a daughter of #UstadAbdulKarimKhan & the 1st woman to stage a ticketed concert in India. 🙏

parrikar.org/vpl/?page_id=1… Image
3/n

#SaraswatiDarshan #सरस्वतीदर्शन

The legendary Surbahar & Sitar maestro Maa #AnnapurnaDevi ji (16 Apr 1927 - 13 Oct 2018), a daughter & disciple of the legendary musician #BabaAllauddinKhan ji of the Senia Maihar gharana, an outstanding guru of many stalwarts of the #ICM 🙏 Image
Read 28 tweets

Related hashtags

Did Thread Reader help you today?

Support us! We are indie developers!


This site is made by just two indie developers on a laptop doing marketing, support and development! Read more about the story.

Become a Premium Member ($3.00/month or $30.00/year) and get exclusive features!

Become Premium

Too expensive? Make a small donation by buying us coffee ($5) or help with server cost ($10)

Donate via Paypal Become our Patreon

Thank you for your support!