Discover and read the best of Twitter Threads about #ब्रह्म

Most recents (3)

◆ 12:00 बजने के स्थान पर #आदित्या: लिखा हुआ है, जिसका अर्थ यह है कि सूर्य 12 प्रकार के होते हैं...
अंशुमान, अर्यमन, इंद्र, त्वष्टा, धातु, पर्जन्य, पूषा, भग, मित्र, वरुण, विवस्वान और विष्णु।
◆ 1:00 बजने के स्थान पर #ब्रह्म लिखा हुआ है, इसका अर्थ यह है कि ब्रह्म एक ही प्रकार
का होता है।
#एको_ब्रह्म_द्वितीयो_नास्ति
◆ 2:00 बजने की स्थान पर #अश्विनौ लिखा हुआ है जिसका तात्पर्य यह है कि अश्विनी कुमार दो हैं।
#नासत्य_और_द्स्त्र
◆ 3:00 बजने के स्थान पर #त्रिगुणा: लिखा हुआ है, जिसका तात्पर्य यह है कि गुण तीन प्रकार के हैं।
सतोगुण, रजोगुण और तमोगुण।
◆ 4:00 बजने के स्थान पर #चतुर्वेदा: लिखा हुआ है, जिसका तात्पर्य यह है कि वेद चार प्रकार के होते हैं।
ऋग्वेद, यजुर्वेद, सामवेद और अथर्ववेद।
◆ 5:00 बजने के स्थान पर #पंचप्राणा: लिखा हुआ है, जिसका तात्पर्य है कि प्राण पांच प्रकार के होते हैं।
अपान, समान, प्राण, उदान और व्यान।
Read 7 tweets
#इतिहास_ही_हमारी_धरोहर_है
#गुरु,#आचार्य,#पुरोहित,#पंडित और #पुजारी का फर्क जानिए
#ब्रह्म_तेजो_बलं_बलं
#वेदिका_वेदपाठी_दीदी की कलम से लेख✍✍✍

अक्सर लोग #पुजारी को #पंडितजी या #पुरोहित को #आचार्य भी कह देते हैं और सुनने वाले भी उन्हें सही ज्ञान नहीं दे पाता है।
पूरा पढ़िये👇👇👇
यह विशेष #पदों के नाम हैं जिनका किसी जातिविशेष से कोई संबंध नहीं।
आओ हम जानते हैं कि उक्त शब्दों का सही #अर्थ क्या है ताकि आगे से हम किसी #पुजारी को पंडित न कहें

#गुरु:-
गु का अर्थ अंधकार और रु का अर्थ प्रकाश अर्थात जो व्यक्ति आपको अंधकार से प्रकाश की ओर ले जाए वह गुरु होता है।
#गुरु का अर्थ #अंधकार_का_नाश_करने_वाला#अध्यात्मशास्त्र अथवा #धार्मिक विषयों पर #प्रवचन देने वाले #व्यक्तियों में और #गुरु में बहुत अंतर होता है।
#गुरु #आत्मविकास और #परमात्मा की बात करता है। प्रत्येक गुरु संत होते ही हैं!*
☝परंतु प्रत्येक #संत का #गुरु होना आवश्यक नहीं है।
Read 46 tweets
◆ 12:00 बजने के स्थान पर #आदित्या: लिखा हुआ है, जिसका अर्थ यह है कि सूर्य 12 प्रकार के होते हैं...
अंशुमान, अर्यमन, इंद्र, त्वष्टा, धातु, पर्जन्य, पूषा, भग, मित्र, वरुण, विवस्वान और विष्णु।
◆ 1:00 बजने के स्थान पर #ब्रह्म लिखा हुआ है, इसका अर्थ यह है कि ब्रह्म एक ही प्रकार का होता है।
#एको_ब्रह्म_द्वितीयो_नास्ति
◆ 2:00 बजने की स्थान पर #अश्विनौ लिखा हुआ है जिसका तात्पर्य यह है कि अश्विनी कुमार दो हैं।
#नासत्य_और_द्स्त्र
◆ 3:00 बजने के स्थान पर #त्रिगुणा: लिखा हुआ है, जिसका तात्पर्य यह है कि गुण तीन प्रकार के हैं।
सतोगुण, रजोगुण और तमोगुण।
◆ 4:00 बजने के स्थान पर #चतुर्वेदा: लिखा हुआ है, जिसका तात्पर्य यह है कि वेद चार प्रकार के होते हैं।
ऋग्वेद, यजुर्वेद, सामवेद और अथर्ववेद।
Read 9 tweets

Related hashtags

Did Thread Reader help you today?

Support us! We are indie developers!


This site is made by just two indie developers on a laptop doing marketing, support and development! Read more about the story.

Become a Premium Member ($3.00/month or $30.00/year) and get exclusive features!

Become Premium

Too expensive? Make a small donation by buying us coffee ($5) or help with server cost ($10)

Donate via Paypal Become our Patreon

Thank you for your support!