Discover and read the best of Twitter Threads about #मुस्लिम

Most recents (12)

एक #मुस्लिम जिसका नाम #मोहम्मद_मनल था 1930 में #हिमालया_ड्रग_कम्पनी की स्थापना किया.. लेकिन उसने वही दिलीप कुमार वाला फार्मूला अख्तयार किया और अपना नाम M Menal लिखा तथा हिमालया आयुर्वेदिक कम्पनी करके लोगों में प्रचार किया।
हिन्दू तो होते ही हैं सीधे साधे उन्होने आयुर्वेदिक (1/7) Image
के नाम पर उसकी दवायें हाथों हाथ लिया और यह कम्पनी आसमान छूने लगी।

मुसलमान हर हाल में #मुसलमान ही होता है और उसका ईमान #जेहाद_और_काफिरों_की_बर्बादी_पर_टिका हुआ है भले ही वह नाम कुछ भी रख ले..

आपको जानकर आश्चर्य होगा यह कम्पनी अपनी आमदनी का दसवां हिस्सा जकात के तौर पर (2/7)
जेहाद के लिए आतंकवादियों को देती है, यानी आपका ही का पैसा आपकी ही बर्बादी मे खर्च होता है..

1986 मे कम्पनी का फाऊन्डर मोहम्मद मनल मर गया.. लेकिन उसके वारिसान भी तो मुसलमान ही हैं जो आज भी आतंकवादियों की फंडिग करते हैं..

#अभी जो कम्पनी का CEO है उसने एक वीडियो में कहा (3/7)
Read 7 tweets
#मुस्लिम जब किसी संवैधानिक पद पर पहुंचते हैं तब अपने लोगों की और अपने धर्म की किस कदर मदद करते हैं वह आप इस सरकारी फाइल में देखिए।

छत्तीसगढ़ में मदरसा चलाने वाली एक मुस्लिम संस्था ने छत्तीसगढ़ के मुस्लिम मंत्री मोहम्मद अकबर के पास एक निवेदन करता है कि उसे एक बड़ा मदरसा (1/4)
खोलने के लिए 12 एकड़ जमीन मुफ्त में एलाट किया जाए।

28 दिसंबर को मंत्री महोदय उस निवेदन पर अपनी मुहर लगाकर फाइल आगे बढ़ाते हैं और ठीक अगले ही दिन कलेक्टर महोदय उस मदरसा संस्था को 12 एकड़ सरकारी जमीन मुफ्त में एलाट कर देते हैं।

क्या आज तक कोई इतना बड़ा निर्णय सिर्फ 1 दिन (2/4)
में हो पाया है?

काश कोई हिंदू मंत्री भी इस तरह हिंदू संस्थाओं की मदद करता।

हिन्दुओ अभी सोच लो अगर कांग्रेस को सत्ता मिल जाती है तब यही दिन देखने पड़ेंगे।

हिंदुओं तुम्हारी सभी जमीने मुस्लिम संस्थाओं को इस्लामिक संस्थाओं को मुफ्त में दे दी जाती है और तुम्हें सिर्फ सस्ती (3/4)
Read 4 tweets
सब के सब हिंदुत्व विद्रोही खांगरेसी!!

केंद्रीय विद्यालयों में प्रार्थना को बताया हिंदू धर्म का प्रचार, अब अदालत में होगा फैसला ! सेक्युलर सुप्रीम कोर्ट ने भी कहा है कि ये बड़ा गंभीर संवैधानिक मुद्दा, जिस पर विचार जरूरी है।

50 सालों से चल रही है प्रार्थना सुप्रीम कोर्ट (1/6)
में विनायक शाह ने याचिका लगाई है।

कांग्रेस मंत्री कपिल सिब्बल के वफादार वकील विनायक शाह ने याचिका दायर की याचिका। स्कूल में सुबह की प्रार्थना से हिन्दू धर्म का प्रचार होता है, #मुस्लिम की भावनाओ को ठेस पहुच रही है और सुप्रीम कोर्ट ने इसे भयानक संबिधान का मुद्दा बताकर (2/6)
तुरंत ही बेंच निर्धारित कर दी।

मुस्लिम की प्रार्थना उनका धार्मिक मुद्दा लेकिन हिन्दू की प्रार्थना सेक्युलर कोर्ट तय करेगी यह कैसा चरित्र है कांग्रेस का भाइयो?

जबकि #राम_मंदिर_का_मुद्दा इन कांग्रेस्सियो के लिए जरूरी नही, क्योकि वो हिन्दुओ की आस्था है। और प्रार्थना मुद्दा (3/6)
Read 6 tweets
मुसलमान #मोदी से क्यों नफरत करते है?

सबसे पहले भारत मे इस्लाम और मुसलमानों की कार्यप्रणाली पर बात करते हैं।

मुसलमानों का कंट्रोल मस्जिदों से होता है, जिसका मुखिया एक मौलाना होता है। देश की सभी मस्जिदों का कंट्रोल दिल्ली की जामा मस्जिद से होता है जिसके मुखिया को शाही (1/16)
इमाम कहा जाता है।

कोई भी सूचना देश के मुसलमानों तक पहुंचानी हो तो जामा मस्जिद का शाही इमाम उसे सभी राज्यों की मुख्य मस्जिद तक पहुंचाता है। राज्यों की मुख्य मस्जिद से जिलों की मुख्य मस्जिदों तक और फिर बाकी की सभी मस्जिदों तक वो सन्देश पहुचता है और वहाँ से शुक्रवार को (2/16)
जुम्मे की नमाज़ के बाद वो सन्देश सभी मुसलमानों तक पहुंचाया जाता है।

इसका एक ताजा उदाहरण अभी आपने देखा होगा कि दिल्ली में मुसलमानों का 100 प्रतिशत वोट केजरीवाल को पड़ा।

इसी तरह CAA का विरोध हो या भारत को इस्लामिक मुल्क बनाने की रणनीति हो या लव जिहाद में हिन्दू लड़कियों (3/16)
Read 16 tweets
जागना नही है मेरे शेरो

मुस्लमान #कुरान_की_शिक्षा के अनुसार ही भारत को तोड़ने की साजिश में लगा हुआ है।

कुरान में साफ लिखा है कि #दारूल_हरब यानि #शत्रु_के_देश को #दारूल_इस्लाम यानि #मुस्लिम_राज्य में बदलना हर #मुसलमान_का_परम_कर्तव्य है।

कुरान के अनुसार #राष्ट्रवाद की (1/13)
बातें करना भी पाप है।

#मुस्लिम आतंकी मुसलमानों के लिए शहीद होते है।

मुसलमानों के धार्मिक गुरु, मस्जिद, मदरसे #आतंकवाद को बढावा देते है। कोई भी राजनैतिक दल इनका विरोध नही करता।

मुस्लिम आतंकी के जनाजे में हजारों मुसलमानों का एकत्र होना तथा उन्ही जनाजो में राजनेताओं का (2/13)
पहुच कर शामिल होना #राष्ट्रद्रोह_की_पराकाष्ठा है।

गुजरात में तो कुछ वर्ष पहले एक ऐसे ही जनाजे में एक #कांग्रेसी_नेता शामिल भी हुए और आतंकी के परिवार को ५ लाख रूपये देने की घोषणा भी कर डाली थी।

अभी हाल ही में मारे गए एक आतंकी के मारे जाने पर #जामा_मस्जिद_का_इमाम_बुखारी (3/13)
Read 13 tweets
एक बड़ी #भयंकर चिंता !
#हिन्दूओं के लिए !

#वृन्दावन में 1965 तक
कोई #मुस्लिम नहीं था।
आज वहाँ मुसलमानों की
संख्या 9 हजार से ज्यादा हो गई हैं।

कभी एक भी #मस्जिद
नहीं हुआ करती थी
#वृन्दावन में आज 3-3
मस्जिदें रोज सुबह शाम
लोगों की नींद हराम कर रही हैं
बकराईद पर #रिफ्यूजी जिहादियों ने पवित्र "वृन्दावन" को भी घेरा और ईद उल जुहा पर लगभग 650 बकरे भैंसे ऊँट गाय और अन्य जानवर काटकर वृन्दावन को #अपवित्र किया

याद रहे 2009 तक वृन्दावन में मुसलमानों के सिर्फ गिनती के 4-5 #परिवार हुआ करते थे
और आज इनकी संख्या हजारों में पहुँच गई हैं
ये भी एक तरह का रिफ्यूजी जिहाद हैं !

जिसके अंतर्गत जिस जगह इस्लाम नही होता,

उस जगह पर इस्लाम #बसाया जाता हैं !
Read 8 tweets
#सुपिंदर_कौर, जिसका कल इस्लामिक आतंकवादीयों ने बेरहमी और जघन्य हत्या की, अपनी आधी सैलरी गरीब बच्चों पर खर्च करती थीं, एक अनाथ #मुस्लिम_बच्ची को गोद ले रखा था।

इस्लामी आतंकियों का निशाना बनीं सुपिंदर कौर बेहद नेक दिल थीं। ++ Image
उन्होंने एक अनाथ बच्ची को भी गोद ले रखा था, जो #मुस्लिम थीं। उस बच्ची को अपने पास ना‌ रख‌, बच्ची को परवरिश के लिए सुपिंदर कौर ने जान-पहचान के एक #मुस्लिम_परिवार को सौंप रखा था। वह‌ चाहतीं तो अनाथ बच्ची को‌ अपने पास रख‌कर एक सीख लडकी की तरह पाल-पोस कर बडा करती। ++
पर ऐसा उन्होंने नहीं किया। सुपिंदर कौर उस मुस्लिम परिवार को हर महीने पंद्रह हज़ार रुपए दिया करती थी।

अब उस‌ बच्ची का क्या होगा। कुछ पता नहीं।

पर .@_sayema जैसी औरतों को तो बस एजेंडा चलाना है। तथ्यों को एक तरह रख कर तुष्टिकरण कि राजनीति करनी है। समाज में अलगाव और मज़हबी ++
Read 4 tweets
एक बड़ी #भयंकर चिंता! #हिन्दूओं के लिए!👇👇

#वृन्दावन में 1985 तक कोई #मुस्लिम नहीं था।
आज वहाँ मुसलमानों की संख्या 90 हजार से ज्यादा हो गई हैं।

कभी एक भी #मस्जिद नहीं हुआ करती थी! #वृन्दावन में आज 3-3 बड़ी मस्जिदें रोज सुबह शाम लोगों की नींद हराम कर रही हैं!

बकरा ईद (1/7)
पर #रिफ्यूजी जिहादियों ने पवित्र #वृन्दावन को भी घेरा और ईद उल जुहा पर लगभग 650 बकरे, भैंसे, ऊँट, गाय और अन्य जानवर काटकर वृन्दावन की नगरी को #अपवित्र किया!

याद रहे 2009 तक वृन्दावन में मुसलमानों के सिर्फ गिनती के 4-5 #परिवार हुआ करते थे ! और आज इनकी संख्या हजारों में (2/7)
पहुँच गई हैं!

ये भी एक तरह का रिफ्यूजी जिहाद हैं! जिसके अंतर्गत जिस जगह इस्लाम नही होता, उस जगह पर इस्लाम #बसाया जाता हैं!

और आपको यह जानकर भी आश्चर्य होगा कि वृन्दावन में एक #बाबुद्दीन नामक व्यक्ति के 21 लड़के और लड़कियां हैं ! इस्लाम का रिफ्यूजी जिहाद हर तरह से सहयोग (3/7)
Read 8 tweets
#पाकिस्तान में मुसलमानों को कौन मार रहा है..
अफगानिस्तान में मुसलमानों को कौन मार रहा है ..
सीरिया में मुसलमानों की हत्या कौन कर रहा है ..
यमन में मुसलमानों को कौन मार रहा है ..
इराक में मुसलमानों को कौन मार रहा है..
लीबिया में मुसलमानों की हत्या कौन कर रहा है ..
कौन है जो मिस्र में मुसलमानों को मार रहा है ..
जो सोमालिया में मुसलमानों को मार रहा है
बलूचिस्तान में भी मुसलमानों को मार रहा है
अब मैं सोच रहा हूँ जब ये सभी देश #इस्लामिक हैं... तब शान्ति कहाँ है..
इस्लाम पर सवाल नहीं कर रहा हूँ, क्योंकि सभी लोग जानते हैं की इस्लाम एक
#शांतिपूर्ण धर्म है..!!. लेकिन... #शांति रहस्यमय रूप से से गायब है....!! अफगानिस्तान, इराक, सीरिया, लेबनान, यमन और मिस्र को क्या बजरंग-दल या हिन्दू-महासभा ने बर्बाद किया है ? या वहां दंगा करने के लिए
Read 15 tweets
#शुभ_समाचार..🚩🚩

आखिर किसी ने कुछ तो शुरू किया ...
'मुश्किल में फंसे' #हिंदुओं के लिए #हेल्पलाइन खोला है
#विश्व_हिंदू_परिषद VHP ने...!

पहले ही दिन 85000 कॉल्स आये हैं....!

यदि किसी हिंदू लड़की को कोई #मुस्लिम परेशान कर रहा है, तो उसे कैसे बचाएं... इसकी जानकारी भी दी (1/5)
जा रही है..!

करीब #तीस_हजार_कार्यकर्ताओं की टीम किसी भी हिंदू की मदद के लिए #चौबीसों_घंटे तैयार रहती है।

#प्रवीण_तोगड़िया का कहना है, "हिंदुओं के बीच भाईचारा बढ़ाने के मकसद से इस हेल्पलाइन की शुरुआत की गई थी। हिंदुत्व के बारे में जानकारी देना और साथ ही किसी अनजान (2/5)
शहर में मुश्किल में फंसे हिंदुओं को कानूनी और अन्य मदद देना इसका मकसद है। हम कॉलर को तुरंत मदद पहुंचाने की कोशिश करते हैं।"

नई दिल्ली की हिंदू हेल्पाइन के कॉर्डिनेटर दीपक कुमार का कहना है, "यहां आने वाली सभी कॉल्स अहम होती हैं। गुड़गांव के एक कॉलर ने अपनी बेटी को (3/5)
Read 5 tweets
एक #मुस्लिम जिसका नाम #मोहम्मद_मनल था 1930 में #हिमालया_ड्रग_कम्पनी की स्थापना करता है....
लेकिन उसने वही दिलिप कुमार वाला फार्मूला प्रयोग किया और अपना नाम M Menal लिखा तथा हिमालया आयुर्वेदिक कम्पनी करके लोगों में प्रचार किया।
हिन्दू तो होते ही हैं सीधे साधे
उन्होने आयुर्वेदिक के नाम पर उसकी दवायें हाथों हाथ लिया और यह कम्पनी आसमान छूने लगी।

मुसलमान हर हाल में #मुसलमान ही होता है और उसका ईमान #जेहाद_और_काफिरों_की_बर्बादी_पर_टिका हुआ है भले ही वह नाम कुछ भी रख ले...

आपको जानकर आश्चर्य होगा यह कम्पनी अपनी आमदनी का दसवां
हिस्सा जकात के तौर पर जेहाद के लिए आतंकवादियों को देती है – यानी आपही का पैसा आपकी ही बर्बादी मे खर्च होता है....

1986 मे कम्पनी का फाऊन्डर मोहम्मद मनल मर गया....
लेकिन उसके वारिसान भी तो मुस्लमान ही हैं जो आज भी आतंकवादियों की फंडिग करते हैं...

#अभी जो कम्पनी का CEO है
Read 6 tweets
The same thread in Hindi here: ..(0/11)
इस्लाम दुनिया को ३ हिस्सों में बांटता है:
(१)दारुल हर्ब (युद्ध भूमि)
(२) दारूल सुलह (सुलह की भूमि) और
(३) दारुल इस्लाम (इस्लाम की भूमि).

इस्लाम मुसलमानो को जिस हिस्सोंमें वो रहते है उस हिसाब से अलगअलग तरीके से रहने को कहता है. में विस्तार से समजाती हूँ: ..(1/11)
दारुलहर्ब(युध्ध भूमि): ये दुनियाके वो हिस्से है जहा गैरमुसलमानो की तादात ज़्यादा है या फिर गैरमुसलमान उन मुल्कोको चलाते है. यहाँ के मुसलमानोका काम है चुपचाप अपनी जनसंख्या बढ़ाना. कैसे? अनियंत्रित बच्चे पैदा करके #PopulationJihad, गैरमुस्लिमको मुस्लिम बनाके (#LoveJihad),..(2/11)
Read 12 tweets

Related hashtags

Did Thread Reader help you today?

Support us! We are indie developers!


This site is made by just two indie developers on a laptop doing marketing, support and development! Read more about the story.

Become a Premium Member ($3.00/month or $30.00/year) and get exclusive features!

Become Premium

Too expensive? Make a small donation by buying us coffee ($5) or help with server cost ($10)

Donate via Paypal Become our Patreon

Thank you for your support!