Discover and read the best of Twitter Threads about #मोदी

Most recents (9)

पाकिस्तानी चैनल पर पाकिस्तानियों की बहस देखिये
पाकिस्तानी तो जैसे पागल हो गए पाकिस्तानी बोल रहे हैं हमारा प्रधानमंत्री अभी सऊदी अरब गया एक क्लर्क लेवल का व्यक्ति उसे एयरपोर्ट पर रिसीव करने आया अब शक्ल से वह पता भी नहीं चल रहा था कि वह सच में शेख था या किसी पाकिस्तानी ने शेख की
👇
वेशभूषा पहनकर एयरपोर्ट पर आया था
और तो और सऊदी अरब वाले 1 फुट का भी लाल जाजम नहीं बिछाते उधर #मोदी को देखो डेनमार्क और जर्मनी वालों ने पूरे एयरपोर्ट पर लाल जाजम बिछा दिया था खुद डेनमार्क की प्रधानमंत्री एयरपोर्ट पर रिसीव करने गई और मोदी का भाषण सुनने गई वह भी भारतीयों के बीच
👇
में बैठकर
कई चैनल पर पाकिस्तान के बुद्धिजीवियों ने विस्तार से समझाया और बताया कि नेहरू के समय में भारत का इमेज एक सपेरे वाले देश एक नागा साधु वाले देश की थी क्योंकि नेहरू अपने आवास में विदेशी मेहमानों को सपेरा बुलाकर नाग नागिन का डांस दिखाते थे और उस वक्त भी भारत दुनिया के
👇
Read 6 tweets
कृषी कायदे मागे घेण्याचे मुख्य कारण-माझं मत
#थ्रेड 1/10

मागे @capt_amarinder यांनी अमित शहांची दिल्लीत भेट घेतली होती. त्यावेळी सुरक्षेसंबंधी महत्त्वाची कागदपत्रं त्यांनी गृहमंत्र्यांना सुपूर्द केली होती.
त्यानंतर कॅप्टननी #अजित_डोवाल यांचीही भेट घेऊन संबंधित मुद्द्यांवर चर्चा
केली होती. ज्याअर्थी ते डोवालना भेटले त्याअर्थी कॅप्टन यांचेकडे अत्यंत संवेदनशील आणि गोपनीय माहिती पुराव्यानिशी होती.

याच सुमारास कॅप्टन #सिद्धू वर टीका करत म्हणाले होते की सिद्धू हा अत्यंत विश्वासघातकी माणूस असून तो राष्ट्रसुरक्षेस धोका आहे. सिद्धूची गळाभेट आठवून पहा. 2/10
केंद्र सरकारने आजच्या दिवशी गुरुनानक जयंतीचा मुहूर्त साधत #कर्तारपूर_कॉरिडॉर पुन्हा खुला केला. यावर अनेक शिखांनी केंद्राचे आभार मानले.
पण त्याचवेळी पाकी #इम्रान_खान सरकारने याचं श्रेय सिद्धूला देत त्याचं कौतुक केलं.
aninews.in/news/world/asi…
3/10
Read 16 tweets
#सावधान
लोकतंत्र में पत्रकारिता जब सरकार के गोद में बैठ जाती है तब पत्रकारिता शास्त्र कैसे बदल जाता है यह आज न्यूज़पेपर्स में छपी खबरों के क्रम और पेपर में ख़बर के स्थानसे पता चलता है।@ravishndtv जी लगातार इस विषय पर लिखते/बोलते भी है, पाठकों को जागृत करने का सिलसिला जारी है।
1/4
एक सच्चे पत्रकार की पैनी नजर पत्रकारिता की मक्कारी को कैसे उजागर करती है यह पता चलता है।
मोदी को फिर से अब पहले पन्ने की पहली हेडलाइन बनाना शुरू हो गया हैं। धीरे धीरे इसी तरह फिर से सब सामान्य होगा। और
फिर भाजपा की नैरेटिव वाली रणनीति के तहत
"21 दिन में कोरोना से जीत" और..
2/4
"दुनिया के कई नामी एक्सपर्ट और बड़ी बड़ी संस्थाओं ने क्या क्या कहा था,भविष्यवाणी की गई थी की पूरी दुनिया में कोरोना के सबसे प्रभावित देश भारत होगा,कहा गया की भारत में कोरोना संक्रमण की सुनामी आएगी।
जिस देश में विश्व की 18% आबादी रहती है, उस देश ने कोरोना पे प्रभावी..
#मोदी
3/4
Read 4 tweets
कालच सरकारने सांगितले की १४ सप्टेंबरपासून होणार्या पावसाळी अधिवेशनात प्रश्र्नोत्तराचा तास वगळला जाणार आहे.काय असतो हा #प्रश्र्नोत्तरतास व त्याचे प्रकार कोणते,#शुन्यप्रहर म्हणजे काय आपण जाणून घेऊया.
संसदेचे अधिवेशन १४ सप्टेंबरला चालु होणार आहे. #म #मराठी #रिम #QuestionHour
संसदीय कामकाज कॅबिनेट समितीने पावसाळी अधिवेशन १४ सप्टेंबर ते १ ऑक्टोबर या कालावधीत घेण्याची शिफारस केली होती. सलग १८ दिवस सुट्टी न घेता संसदेचे कामकाज होणार आहे,असे अधिकाऱ्यांनी सांगितले.
संसदेत प्रश्नोत्तरांचा तास रद्द करण्यात आला असुन तो रद्द करण्याचा निर्णय 1950 नंतर
पहिल्यांदाच घेतला गेला. तसेच शुन्य प्रहराचा कालावधी ही कमी केला जाईल आणि #खाजगी #विधेयकेही मांडली आणि चर्चेली जाणार नाहीत.
#प्रश्नोत्तर_तास- सभागृह भरल्यावर सभेचा पहिला तास प्रश्न विचारणे आणि उत्तरे देणे ह्यासाठी उपलब्ध असतो.सकाळी 11 ते 12 मध्ये सभासदांनी विचारलेल्या प्रश्नांची
Read 11 tweets
'Connecting Bharat' वर धागा(Thread)
१.
अंदमान-निकोबार आणि लक्षद्वीप सह पूर्ण भारत फक्त तीन वर्षांत(१००० दिवस) ऑप्टिकल फायबर ने जोडण्याची घोषणा #मोदी यांनी या १५ ऑगस्ट ला केली आहे. यामुळे दोन वेगळ्या आघाड्यांवर काम करणाऱ्या एकाच विचारधारेच्या समुदायांची दुखणी Image
२.
वाढणार आहेत.'भारत' देश म्हणून जगात मान्यताप्राप्त जो भूभाग आणि सामुद्रिक क्षेत्र आहे तिथे राहणाऱ्या आणि भेट देणाऱ्या सर्व भारतीयांना संपर्कात आणण्याचे एक मोठे काम यामुळे सुरू झाले आहे. तर दुखणी वाढणाऱ्यांच्या एका आघाडीचे लोक ते Image
३.
आहेत जे आजपर्यंत हर प्रकारे देशाच्या कोणत्याही प्रगतीवर प्रश्न उपस्थित करणारे आहेत.

मोदींनी अशी घोषणा केली की त्यांना फेकू म्हणणाऱ्या लोकांचा हा गट तर आहेच पण अशी घोषणा केल्यावर विदेशी कंपन्या त्यात का? किंवा भारतीय कंपन्यांना त्यात स्थान काय,किती याची Image
Read 10 tweets
#राजनीतिक चरित्र
#मोदी जी ,कांग्रेस ,केजरीबवाल ,बामपंथ और दल्ली मीडिया
#संयोग या प्रयोग
दोस्तों,
#मोदी जी का सम्बोधन 20 लाख करोड़ के पैकेज के साथ साथ स्वदेशी और आत्मनिर्भर भारत अभियान की घोषणा..

Thread... Continue...
#श्रमिक ट्रेनों की शुरुवात होना लेकिन इसके बाद पूरे देश में एकाएक लोगों का रोड पर आना जिन्हें गरीब मजदूर बोलकर,अप्रवासी मजदूर बोलकर एकाएक मीडिया का रंडी रोना शुरू हो जाता हैं,क्या ये महज एक संयोग हैं...

नहीं...
#कांग्रेस और पूरे विपक्ष का खेल हैं जिससे गरीब मजदूरों के नाम पर अप्रत्यक्ष रूप से #चीन का सहयोग किया जा सके...
*1- #केजरीबवाल दिल्ली में गरीब मजदूरों के लिए अच्छी व्यवस्था कम खर्च में कर सकता था,लेकिन नहीं किया...
*2- #कांग्रेस अपने राज्यो में गरीब मजदूरों के लिए अच्छी व्यवस्था
Read 12 tweets
Flashback #Congress
.
थोड़ा लम्बा जरूर है, पर यकीन मानिए पूरा पढ़ने के बाद आज के घटनाक्रम को आप सही ठहराएंगे!
.
ये हैं #गिरधर_गमांग जो #कांग्रेस के उस महापाप के सबसे बड़े गवाह और भागी हैं, जिसके चलते आज जनता भाजपा की गलती को भी मास्टरस्ट्रोक करार देती है!
.
continued...
गिरधर गमांग ही वो वोट थे, जिसके चलते अटल जी की सरकार एक वोट से गिर गई थी!
आज से बीस साल पहले, यानि ‌1999 में अटल जी की सरकार के खिलाफ लाया गया था अविश्वास प्रस्ताव! माया, ममता और जया की आए दिन की नाराजगियों या तुनकमिजाजी से परेशान तो अटल जी वैसे ही थे!
.
continued...
13 महीने चली उनकी सरकार के खिलाफ विपक्ष ने अविश्वास प्रस्ताव पेश कर दिया! स्वामी उस अविश्वास प्रस्ताव के पीछे अहम भूमिका में थे!जया को उन्होंने ही मनाया था! खैर वो बात और कभी..
.
आज बात कांग्रेसियों के उस पाप की जिसके चलते लोगों के दिलों में एक बहुत गहरी टीस घर कर गई!
.
continued
Read 12 tweets
Read 17 tweets
1#मंगलपांडे को चर्बी लगे कारतूस से समस्या थी,अंग्रेज सरकार की नौकरी से नहीं थी
उसकी बंदूक से निकली गोली भारतीय नागरिकों के लिए थी!
अगर कारतूस में चर्बी ना होती तो वो भारतीय नागरिकों पर बंदूक चलाता रहता लेकिन आज वो क्रांति का प्रतीक है
1 #तेजबहादुरयादव क्रांतिकारी नहीं हो सकता है
2 #तेजबहादुरयादव की बंदूक की गोली दुश्मन देश के लिए थी।
उसे बहादुरी के लिए मेडल भी मिले है। खाने को लेकर उसकी शिकायत केवल अपने लिए नहीं,अपने साथियों के लिए थी।
उसे नौकरी से निकाल दिया गया और आज #मोदी को चुनौती देने के कारण उसे संघी देशद्रोही साबित करने में जुटे है।
3 #तेजबहादुरयादव मोदी को चुनौती देने के कारण हो जाता है देशद्रोही। जबकि मंगलपांडेय साधारण परिवार का अंग्रेजोँ का गुलाम सिपाही था क्रांतिकारी।
#तेजबहादुरयादव स्वतंत्र भारत की सेना का लड़ाकू फौजी जिसके दादाजी भी सुभाषचंद्र बोस की आज़ादहिंद फौज के सदस्य थे।
बात तो यह है तेज यादव था
Read 9 tweets

Related hashtags

Did Thread Reader help you today?

Support us! We are indie developers!


This site is made by just two indie developers on a laptop doing marketing, support and development! Read more about the story.

Become a Premium Member ($3.00/month or $30.00/year) and get exclusive features!

Become Premium

Too expensive? Make a small donation by buying us coffee ($5) or help with server cost ($10)

Donate via Paypal Become our Patreon

Thank you for your support!