Discover and read the best of Twitter Threads about #राम

Most recents (15)

राम नाम की ताकत अपरम्पार है । यह सबको जोड़ता है, सबको अपनाता है और सब इसको अपनाते हैं । आज सर्वोदय शिविर के दूसरे दिन जहां से भी प्रभात फेरी निकली, @GauravS00188308 की आवाज़ में राम नाम की गूंज भोपाल के भौरी गाँव में हुई, स्वमेव ही दरवाजे तक आए रहवासियों के हाथ जुड़ गए ।
आसपास की गलियों से छोटे बच्चे निकले और प्रभात फेरी में शामिल हो गए । धुन के साथ ताली मिलाने लगे । मंजीरे और ढोलक की थाप भजन मे रस और श्रद्धालुओं में उमंग भरती रही ।
#राम भारत में रचे बसे हैं । धर्म के बंधन से मुक्त, उससे उपर । राम भारत की लोक संस्कृति में हैं ।
राह चलते राम राम कहता राहगीर एक नाम लेकर खुद को दूसरों से जोड़ लेता है । गांधीजी का रघुपति राघव राजा राम इसीलिए सर्वधर्म सद्भाव का भजन है। सबके लिए, सबको प्रिय। इसीलिए इंडोनेशिया की मुस्लिम आबादी के लिए भी राम जननायक हैं। सूफियों की तरह धर्म से ऊपर उठ लोकसंस्कृति तक पहुंचे हुए।
Read 6 tweets
#राम

ये राम का देश है। यहां कण कण में राम हैं। भाव की हर हिलोर में राम हैं। कर्म के हर छोर में राम हैं। राम यत्र-तत्र हैं। राम सर्वत्र हैं। जिसमें रम गए वही राम है। यहां सबके अपने-अपने राम हैं। गांधी के राम अलग हैं। लोहिया के राम अलग। वाल्मीकि और तुलसी के राम में भी (1/47)
फर्क है। भवभूति के राम दोनों से अलग हैं। कबीर ने राम को जाना। तुलसी ने माना। निराला ने बखाना। राम एक ही हैं पर दृष्टि सबकी भिन्न। भारतीय समाज में मर्यादा, आदर्श, विनय, विवेक, लोकतांत्रिक मूल्यवत्ता और संयम का नाम है राम। आप ईश्वरवादी न हो, तो भी घर-घर में राम की गहरी (2/47)
व्याप्ति से उन्हें मर्यादा पुरुषोत्तम तो मानना ही पड़ेगा। स्थितप्रज्ञ, असंम्पृम्त, अनासक्त। एक ऐसा लोक नायक, जिसमें सत्ता के प्रति निरासक्ति का भाव है। जो जिस सत्ता का पालक है, उसी को छोड़ने के लिए सदा तैयार है।

राम हमारे देश की उत्तर दक्षिण एकता के अकेले सूत्रधार है। (3/47)
Read 49 tweets
Review: #RRR
Ratings: ⭐⭐⭐⭐⭐
Agar ise nahi dekha to kya dekha!
@ssrajamouli is the director who can turn a film into the
C-E-L-E-B-R-A-T-I-O-N
You can't get enough of it in
1 go.
Deserves a 2nd-3rd watch
"Only in the THEATERS"
#JrNTR #RamCharan
#AjayDevgn
#RRRreview
Entry of both lead actors stands out.
But #JrNTR's entry scene deserves a special mention. It will give you an adrenaline rush..!
There is an emotional connect in the background.
Goosebumps Guaranteed.

Entry of #RamCharan is superbly choreographed.
Fantastic!
After #Prabhas,
@alluarjun
has become an established name in the North belt with #Pushpa
And now its time for #JrNTR @tarak9999 with #RRR.

What a terrific performance!

He's here to stay.. For sure.
He makes you laugh, cry, angry.. An instant connect with audience 👌👌
Read 15 tweets
राम से मेरा प्रेम स्वाभाविक है..
जीवन की प्रथम स्मृति यही है कि बाबा पलंग के कोने में आसान पे मानस पढ़ते थे और उनकी उसी सुमधुर ध्वनि से से नींद खुलती थी!

अवधी भाषा का ज्ञान ना होने से मेरा मन केवल अर्थ सुनने में रहता जो बाबा बिना झुंझलाए सुनाते थे..
उमर बढ़ी ..

(धागा)
>>>
#राम
और प्रेम वैसे ही बढ़ता गया..राम की कहानी मेरी सबसे पसंदीदा कथा थी..

>>>>>
पर अब बड़े होने के साथ हिन्दू होने का सबसे बड़ा लक्षण परवर्ती हुआ – तर्क
इस बीच अक्सर मंदिर मंदिर – मस्जिद विवाद सुनती थी तो बाबा से पूछा मंदिर इतना जरूरी क्यों?
बाबा ने पूछा क्यों नहीं है?
Read 29 tweets
#Thread
-: फलटणचे श्रीराम मंदिर :-
              एखाद्या गावी आपण पहिल्यांदा जावं आणि तिथे जाऊन आपल्याला खंत वाटावी की अरे..! आपण इथे यायला इतका उशीर का लावला..! तसच काहीसं मला फलटण गावी जाऊन वाटलं. तेथील शहररचना,
@ShefVaidya @authorAneesh @MulaMutha
#Temples #मंदिर #राम
१/
जुनी पण नावीन्यपूर्ण अशी बांधकामं आणि एकंदरीत वातावरण ह्या गोष्टींनी मला प्रचंड प्रभावित केले. त्यात अजून आनंद वाढवणारा 'दुग्धशर्करा योग' म्हणजे फलटणमधील अतिशय सुंदर अशी मंदिरे..! पुरातन असे जब्रेश्वर महादेवाचे मंदिर, गिरवीचे श्रीकृष्ण मंदिर आणि फलटणचे प्रसिद्ध राम मंदिर..!
२/
या सर्व मंदिरांना उत्तम स्थितीत पाहून मनाला अतिशय संतोष वाटला.

त्यात मला श्रीराम मंदिराची भावलेली भव्यता,सुंदरता आणि रमणीयता इथे शब्दात मांडण्याचा प्रयत्न करत आहे.

फलटण गावात स्थित असणारे श्रीराम मंदिर हे श्रीमंत निंबाळकर यांच्या राजवाड्याच्या परिसरात आहे.
३/
Read 16 tweets
1.
मैं #भारत हूँ🇮🇳🚩❤️💪
🔶 मैं वह भारत हूँ, जिसने पिछले 5000वर्ष में कभी अपने किसी बेटे का नाम #दुशासन नहीं रखा,
"क्योंकि उसने एक स्त्री का अपमान किया था"
🔶 मैं वह भारत हूँ, जो कभी अपने बच्चों को #रावण या #कंस नाम नहीं देता,
"क्योंकि इन्होंने अपने जीवन में स्त्रियों के...
Cont2
2.
साथ दुर्व्यवहार किया था"
🔶 मैं वह भारत हूँ, जहाँ कोई #गांधारी , अपने सौ पुत्रों की मृत्यु के बाद भी #द्रौपदी पर क्रोध नहीं करती, बल्कि अपने बेटों की असभ्यता के लिए क्षमा मांगती है!
🔶 मैं वह भारत हूँ, जहाँ 99% बलात्कारियों को अपना गाँव छोड़ देना पड़ता है,
और उसे धक्का..
Cont3
3.
"कोई और नहीं, खुद उसके खानदान वाले देते हैं"
🔶 मैं वह भारत हूँ, जहाँ गुस्सा आने पर सामान्य बाप, #बेटे को भले लात से मार दे,
"पर #बेटी को थप्पड़ नहीं मारता"
🔶 मैं वह भारत हूँ, जहाँ एक सामान्य बाप अपने समूचे #जीवन की कमाई, अपनी बेटी के लिए "सुखी संसार रचने में खर्च कर...
Cont4
Read 7 tweets
1.
#दशहरा
🏵️ आजकल सोशल मिडिया पर एक #ट्रेंड बहुत तेजी से चल पड़ा है,
#रावण_के_बखान
– कि वो एक प्रकांड पंडित था जी!
– उसने #माता_सीता को कभी छुआ नहीं जी!
– अपनी #बहन के अपमान के लिये पूरा कुल दाव पर लगा दिया जी!
अरे भाई, माता सीता को ना छूने का कारण उसकी #भलमनसाहत नहीं...
👇👇2. Image
2.
– बल्कि #कुबेर के पुत्र #नलकुबेर द्वारा दिया गया शाप था!
🏵️ कभी लोग ये कहानी सुनाने बैठ जाते हैं कि एक मां अपनी बेटी से ये पूछती है कि तुम्हें कैसा भाई चाहिये,
बेटी का जवाब होता है👉 रावण जैसा!
जो अपनी #बहन के अपमान का बदला लेने के लिये सर्वस्व #न्योंछावर कर दे...😌
👇👇3.
3.
#भद्रजनो, ऐसा नहीं है👋
🏵️ रावण की बहन #सूर्पणंखा के पति का नाम #विधुतजिह्व था"
जो राजा #कालकेय का सेनापति था!
जब रावण तीनो लोको पर विजय प्राप्त करने निकला तो उसका युद्ध कालकेय से भी हुआ,
जिसमे उसने विधुतजिव्ह का वध कर दिया!
तब सूर्पणंखा ने अपने ही भाई को श्राप दिया कि
👇👇4.
Read 8 tweets
Some Unsung Legends of Goswami Tulsidas Ji

खानखाना #अब्दुर्रहीम से गोस्वामी जी की मित्रता थी| कभी गोस्वामी जी ने कहा कि खानखाना भगवान के एकनिष्ठ भक्त हैं| कुछ लोगों को विश्वास नहीं हुआ और परीक्षा लेने को कहा, अतः #गोस्वामी जी ने एक आधा दोहा लिखकर उसे पूर्ण करने के लिए
रहीम के पास भेजा:

धूर उड़ावत सिर धरत कहु रहीम केहि काज?

रहीम ने पूरा किया : जेहि रज #मुनि_पत्नी तरी, सोई खोजत गजराज

अर्थात - हाथी नित्य क्यों अपने सिर पर धूल को उछाल-उछालकर रखता है ? जरा पूछो तो उससे उत्तर है:- जिस धूल से #गौतम ऋषि की पत्नी #अहल्या तर गयी थी, उसे ही गजराज
ढूंढता है कि वह कभी तो मिलेगी

कभी #टोडरमल गोस्वामी जी के पास जागीर का प्रस्ताव ले गये; गोस्वामी जी बोले :

हम तो चाकर #राम के, पटौ लिख्यो दरबार
अब तुलसी का होहिंगे, नर को मनसबदार

राजा #बीरबल मृत्यु को प्राप्त हुए; लोग चर्चा कर रहे थे कि बीरबल बड़े बुद्धिमान थे| गोस्वामी जी
Read 4 tweets
#तुलसीदासजी का जन्म संवत्‌ 1554 की श्रावण शुक्ल सप्तमी के दिन #सरयूपारीण #ब्राह्मण के परिवार में हुआ था
जन्मते समय बालक तुलसीदास रोए नहीं, किंतु उनके मुख से
#राम का शब्द निकला। उनके मुख में बत्तीसों दाँत मौजूद थे जिसे देखकर पिता अमंगल की शंका से भयभीत हो गए थे।
तुलसीदास लगभग साढ़े पाँच वर्ष अनाथ हो गए थे। ऐसी मान्यता है #माता #पार्वती ब्राह्मणी का वेश धारण कर प्रतिदिन उसके पास जातीं और उसे अपने हाथों से भोजन करा जातीं। संवत्‌ 1561 माघ शुक्ल पंचमी श्री नरहरि ने उसका यज्ञोपवीत संस्कार कराया और उनका नाम #रामबोला रखा।
बिना सिखाए ही बालक रामबोला ने #गायत्री-मंत्र का उच्चारण किया, जिसे देखकर सब लोग चकित हो गए।
अयोध्या में ही रहकर उसे विद्याध्ययन कराने लगे।
बालक रामबोला की बुद्धि बड़ी प्रखर थी। एक बार गुरुमुख से जो सुन लेते थे, उन्हें वह कण्ठस्थ हो जाता था।
Read 13 tweets
सच्चिदानन्दरूपाय विश्वोत्पत्त्यादिहेतवे।
तापत्रयविनाशाय श्रीकृष्णाय वयं नुमः॥
!१/१!

सच्चिदानन्दस्वरूप भगवान् श्रीकृष्णको हम नमस्कार करते हैं, जो जगत् की उत्पत्ति, स्थिति और विनाशके हेतु तथा आध्यात्मिक, आधिदैविक और आधिभौतिक~ तीनों प्रकारके तापोंका नाश करनेवाले हैं॥१!!#जयश्रीकृष्ण Image
यं प्रव्रजन्तमनुपेतमपेतकृत्यं
द्वैपायनो विरहकातर आजुहाव।
पुत्रेति तन्मयतया तरवोऽभिनेदु-
स्तं सर्वभूतहृदयं मुनिमानतोऽस्मि॥
!१/२!

जिस समय शुकदेवजीका बिना यज्ञोपवीत-संस्कार हुए संन्यासके लिए जाते देखकर पिता व्यासजी पुकारने लगे~बेटा!कहां जारहे हो?उस समय वृक्षोंने उत्तर दिया था॥२!!🙏 ImageImage
नैमिषे सूतमासीनमभिवाद्य महामतिम्।
कथामृतरसास्वादकुशलः शौनकोऽब्रवीत्॥
!१/३!

एक बार भगवत्कथामृतका रसास्वादन करनेमें कुशल मुनिवर शौनकजीने नैमिषारण्य क्षेत्रमें विराजमान महामति सूतजीको नमस्कार करके उनसे पूछा॥३!!

#श्री_भगवत_भागवत_सेवा_संस्थानम्
#Shri_Bhagavat_Bhagwat_Seva_Sansthanam Image
Read 84 tweets
थ्रेड...

रावण का बखान (किसी को उसकी बहन बनना है तो किसी को पत्नी तो कोई उसकी विद्वता से मोहित है तो कोई उसके अजेय होने के दम्भ से)

आजकल की लाइफ लाइन सोशल मीडिया पर ऐसा ट्रेंड बहुत तेजी से चल पड़ा है। भावनाओं का ज्वार उफान पर है और कारण सिर्फ हिंदुओं के नामधारी सेक्युलरों की
हिंदुओं को अपमानित करने की नीच मानसिकता ही है।

बुद्धिजीवियों द्वारा महिमामंडन का कारण व गलतफहमी सुनिये...

....इसलिए कि उसने माता सीता को कभी छुआ नहीं ?

अरे भाई ! माता सीता को नहीं छूने का कारण उसकी भलमनसाहत नहीं, बल्कि कुबेर के पुत्र “नलकुबेर” द्वारा दिया गया श्राप था कि
यदि किसी स्त्री को उसकी इच्छा विरुद्ध छुआ, तो उसके सिर के टुकड़े-टुकड़े हो जायेंगे।

....इसलिए कि अपनी बहन के अपमान के लिये पूरा कुल दाँव पर लगा दिया? जी हाँ ! ... ये भी ठीक।

नए बुद्धिजीवी लोग ये कहानी सुनाने बैठ जाते हैं कि एक माँ अपनी बेटी से ये पूछती है
Read 10 tweets
#JaiShriRam
#राम कलयुग में भी मर्यादा पुरुषोत्तम हैं।

(पढ़िए आज के भूमि पूजन के परिप्रेक्ष्य में)

रघुकुल चंदन दशरथ नंदन, रखते कितना संयम हैं।
राम हमारे अवध दुलारे, मर्यादा पुरुषोत्तम हैं।। 1/n
ध्वस्त हुआ था घर जब उनका, क्रोध न उनको था आया।
था चुपचाप सहा उस पल को, धैर्य मार्ग ही अपनाया।।
सदियाँ और पीढ़ियाँ बीतीं, भक्त आपके व्याकुल थे।
फिर भी राम शांत अविचल थे, मर्यादा में ही घुल के ।। 2/n
रघुकुल चंदन दशरथ नंदन, राघव ही सर्वोत्तम हैं।
राम हमारे अवध दुलारे, मर्यादा पुरुषोत्तम हैं।

जैसा काल व्यवस्था जैसी, रहे उसी सीमा भीतर।
किये प्रतीक्षा विधि निर्णय की, स्वयं आप प्रभु जगदीश्वर।
3/n
Read 9 tweets
भारत के बाहर थाईलेंड में आज भी संवैधानिक रूप में राम राज्य है,

वहां भगवान राम के छोटे पुत्र कुश के वंशज सम्राट....भूमिबल अतुल्य तेज राज्य कर रहे हैं

जिन्हें नौवां राम कहा जाता है,
भगवान श्रीराम का संक्षिप्त इतिहास

वाल्मीकि रामायण एक धार्मिक ग्रन्थ होने के साथ एक ऐतिहासिक ग्रन्थ भी है,

क्योंकि महर्षि वाल्मीकि राम के समकालीन थे,!

रामायण के बालकाण्ड के सर्ग,70 / 71 और 73 में श्री राम और उनके तीनों भाइयों के विवाह का वर्णन है,
जिसका सारांश है,

मिथिला के राजा सीरध्वज थे,जिन्हें लोग विदेह भी कहते थे ! उनकी पत्नी का नाम सुनेत्रा (सुनयना )था
जिनकी पुत्री सीता जी थीं, जिनका विवाह राम से हुआ था ,राजा जनक के कुशध्वज नामके भाई थे,

इनकी राजधानी सांकाश्य नगर थी जो इक्षुमती नदी के किनारे थी,
Read 29 tweets
Thread:- #राम का कालखण्ड

राम त्रेतायुग के अन्तिम चरण में हुये थे।
त्रेता के बाद 8,64000 का द्वापरयुग + 5120 वर्ष कलयुग के हो चुके हैं। = 8,69,120 वर्ष

यदि श्री राम को त्रेता के बिल्कुल अन्त में भी मान लें तब भी श्री राम को 8,69,120 वर्ष (2019 तक) हो चुके हैं।
@Aabhas24

(1/n)
रामायण और महाभारत हमारे देश का वास्तविक इतिहास है।
वैसे तो #राम_सेतु स्वयं में रामायण का अकाट्य प्रमाण है , परन्तु रामायण विरोधी लोग इसे भी नही स्वीकारना चाहते।
वे लोग भी ऐसे ही हैं, जो सूर्य के अस्तित्व को नकारने के लिए आँख बंद कर लेते हैं।
(2/n) Image
विश्व में अनेको प्रजातियां समय व परिस्थिति के साथ लुप्त होती चली गयी। इसी तरह हाथियों की अनेको प्रजातियां थी, जिनमे एक प्रजाति थी, जिसका नाम है (Gomphotherus)। इस प्रकार के हाथी के 4 दांत होते थे, 2 दांत ऊपर की तरफ, 2 दांत नीचे की तरफ।
रामायण में इनका स्पष्टतः उल्लेख है।
(3/n) ImageImage
Read 9 tweets
1👆🙏👇2
6. Providing electricity to 18450 villages
7. Introducing Ayushman Bharat
8. Not letting the terrorists into India like the UPA government.
9. Generic medicines
10. Reducing price of stents
11. For reducing joint operation
#NarendraModi
#ModiSangCG
#जय_सिया_राम_जी
🚩🙏👍
👇3
12. Providing employment due to Make In India scheme
13. Not even a single corruption charge in 4 years of Modi government
14. For making Dalit the President of India
15. For making woman as India’s Defence Minister
#MeraPMmeraAbhimaan
#NarendraModi
#वंदेमातरम
@narendramodi
Read 10 tweets

Related hashtags

Did Thread Reader help you today?

Support us! We are indie developers!


This site is made by just two indie developers on a laptop doing marketing, support and development! Read more about the story.

Become a Premium Member ($3.00/month or $30.00/year) and get exclusive features!

Become Premium

Too expensive? Make a small donation by buying us coffee ($5) or help with server cost ($10)

Donate via Paypal Become our Patreon

Thank you for your support!