Discover and read the best of Twitter Threads about #INSViraat

Most recents (2)

आप चाहें तो शुतुरमुर्ग की तरह रेत में गर्दन डाल कर नज़रअंदाज़ कर लें, चाहें तो कह लें कि #INSViraat का मुद्दा बेकार है।पर जो पुरानी मीडिया रिपोर्ट्स सामने आ रही हैं वो सिर्फ उनको ही विचलित नहीं करेंगी जो "गोरी चमड़ी" वाले लोकतंत्र के "राजाओं" की मानसिक गुलामी में बंधे हैं।
देश आज़ाद था,पर वो "राज-परिवार"है उसे हक है 10 दिन देश के खर्चे पर छुट्टियां मनाने का!राजा हैं तो बिना दरबारी क्यों जायेंगे /दरबारी भी होंगे, विदेशी मेहमान भी होंगे,क्या फर्क पड़ता हैं। वो राजा हैं उन्होंने देश को आज़ाद कराया है उन्हें हक है देश के रक्षा संसाधनों के इस्तेमाल का!
शुक्र है इंडियन एक्सप्रेस तब तक शेखर गुप्ता के कब्जे में नहीं था। वरना उसकी ये रिपोर्ट्स आज पब्लिक डोमेन में न आतीं कि कैसे एक साल नहीं, हर साल देश के प्रधानमंत्री/उनके रिश्तेदारों और विदेशी मेहमानों की न्यू ईयर पार्टियां कभी #INSViraat तो कभी अंडमान द्वीप पर होती थीं।
Read 3 tweets
Why is @IndianExpress totally silent on its own detailed report of Jan 23, 1988 on #INSViraat "performing various duties in connection with the holiday" while Naval personnel "looked after the needs" of the group that included 8 foreigners?

Or does it believe this was fake news?
The rest of the detailed report by @IndianExpress on the Gandhi family's Lakshadweep holiday, in the year the Bofors scandal broke. (h/t @akkadbakkad1)
P.s. I was emailed the image in the first tweet by an IE journalist disappointed with her newspaper's silence. Journalism of (hidden) courage. WDTT
Read 3 tweets

Related hashtags

Did Thread Reader help you today?

Support us! We are indie developers!


This site is made by just three indie developers on a laptop doing marketing, support and development! Read more about the story.

Become a Premium Member ($3.00/month or $30.00/year) and get exclusive features!

Become Premium

Too expensive? Make a small donation by buying us coffee ($5) or help with server cost ($10)

Donate via Paypal Become our Patreon

Thank you for your support!