Mishti Shukla 💯% FB 🚩 Profile picture
जय श्री राम 🙏🚩 अगर follow करके unfollow ही करना है, तो कृपया follow न करें (communist/INC/SP keep distance) DM=BLOCK 🔥
Feb 21, 2023 8 tweets 2 min read
: 10 वर्ष पूर्व 4 लाख रुपये में लिया घर आज 40 लाख में बेचना है, परन्तु 10 वर्ष पूर्व 400 रुपये में मिलने वाला गैस सिलैंडर आज भी 400 रुपये में ही चाहिये

मानसिकता बदलो,सरकार नहीं

जिनका मानना है, अब बहुत महंगाई हो गई है तो उनसे ही पूँछता है भारत कि जैसे P2
2004 में किसी चीज के रेट थे, उसके बाद 2014 तक इतने गुना बढ़े तो अब 2024 में इतने गुना बढ़कर कितने होने चाहिए ?

काँग्रेस आई 2004 में पेट्रोल 35 था,
गई 2014 में 73 था मतलब 35×2=70 से भी ज्यादा
तो
2024 में 73×2=146
मतलब 150 होना चाहिए,
लेकिन अब कितना है ?
Nov 6, 2022 5 tweets 1 min read
P1
मुफ्तखोरो का मनोविज्ञान-
लाल झंडा पकड़े नेता ने कॉमरेडो से कहा-
अगर तुम्हारे पास 20-बीघा खेत है, तो क्या तुम उसका आधा गरीबो को दे दोगे?
सारे कामरेड एक साथ- हाँ दे देंगे!
नेता ने फिर कहा-
अगर तुम्हारे पास दो घर है, तो क्या तुम एक घर गरीबो को दोगे?
कामरेड- हाँ दे देंगे P2
नेता ने फिर कहा-
अगर तुम्हारे पास दो कार है, तो क्या तुम एक कार गरीब को दे दोगे?
सारे कामरेड एक साथ बोले- हाँ दे देंगे!
नेता ने फिर पूछा-
अगर तुम्हारे पास बीड़ी का बंडल है, तो क्या उनमे से 2 बीड़ी तुम अपने साथी को दे दोगे?

सारे कामरेड- नही, बीड़ी तो बिल्कुल नही देगे!
Nov 5, 2022 10 tweets 3 min read
P1
लखनऊ को नवाबो का शहर कहना इस्लामिक प्रोपागेंडा का चरमोत्कर्ष है
अयोध्यापुरी और लक्ष्मणपुरी ये दो शहर ऐसे ही आपस में जुड़े हुए थे जैसे भगवान राम और उनके छोटे भाई लक्ष्मण का नाम आपस मे जुड़ा हुआ है
अयोध्या भगवान राम की सेवा मे थी और लक्ष्मणपुरी की स्थापना श्री लक्ष्मण ने की थी P2
कांग्रेसी शिक्षामंत्री मौलाना आजाद के जमाने मे तैयार की गई स्कूल की किताबो के माध्यम से बहुत मनोवैज्ञानिक तरीके से बच्चो के दिमाग मे पीढ़ी दर पीढ़ी ये झूठ भर दिया गया कि लखनऊ नवाबो का शहर है
मनोवैज्ञानिक तरीके से झूठ दिमाग मे डालने का सबसे अच्छा तरीका ये होता है कि पहले
May 14, 2022 10 tweets 2 min read
P1
ताजमहल और ज्ञानव्यापी पर जो फैसले आये है हिन्दू उन्हे स्वीकार कर ले
और ताजमहल को लेकर जो फटकार पड़ी है उसे सकारात्मक ले।
गलती हमारी ही है जो बिना ठोस सबूत के PIL लगाई।
लेकिन ज्ञानव्यापी पर जो सफलता मिली है उसे जरूर एन्जॉय कीजिये और एक सबक ले लीजिए P2
कि आपके गांव और शहरों के प्रसिद्ध मंदिरो के पास कोई दरगाह विकसित मत होने दीजिए!
वरना एक ज्ञानव्यापी केस आपके अपने स्थान पर होगा।
ये एक कमाल का संयोग है कि जहाँ जहाँ हिन्दुओ के मंदिर होते है उसके ठीक आजू बाजू मे ही कोई मुस्लिम फ़क़ीर अपनी जान देता है और
May 13, 2022 21 tweets 5 min read
बटवारे में कलकत्ता भारत से अलग हो जाता यदि महावीर गोपाल पाठ (मुखर्जी ) न होते-
जिन्ना ने अपने direct action डे के लिए कोलकाता को चुना क्योंकि वह चाहते थे कि कोलकाता पाकिस्तान मे हो। कोलकाता उस समय भारत का एक प्रमुख व्यापारिक शहर था, और जिन्ना कोलकाता को खोना नहीं चाहते थे! P2
कोलकाता को हिंदू मुक्त बनाने का मिशन सुहरावर्दी को दिया गया था, जो बंगाल के मुख्यमंत्री थे, और जिन्ना के प्रति वफादार थे।
उस समय 1946 में कलकत्ता मे 64% हिंदू और 33% मुसलमान थे।
सुहरावर्दी ने 16 अगस्त को अपनी योजना को अंजाम देना शुरू किया
उसके द्वारा एक हड़ताल की घोषणा की गई
May 12, 2022 18 tweets 4 min read
P1
शाहीन बाग मे नगर निगम का बुलडोजर खाली लौटा
यह अप्रत्याशित नही,
ऐसा न होता तो आश्चर्य होता
दरअसल शाहीन बाग एक प्रवृत्ति है
देश के हर राज्य और शहर मे शाहीन बाग है
इन्हें पिछले 7 दशको से पाला-पोसा गया है
इन्हे कानून का पालन न करने की आदत है, जिसे ये अब अपना अधिकार समझने लगे है। P2
कानून का पालन करने को कहने पर इन्हे लगता है कि प्रताड़ित किया जा रहा है। इसलिए हर समय विक्टिम कार्ड तैयार रहता है।
देश की जिन एजेंसियो पर law & order बनाए रखने की जिम्मेदारी है, पर समस्या ये कि कानून के दायरे मे, कानून तोड़ने को अपना मौलिक अधिकार समझने वालो से कैसे निपटे?
Mar 13, 2022 9 tweets 3 min read
#काश्मीर_फाईल्स
यहूदियों के #चार_दर्दनाक_निर्वासन_हुए!! भारत के अतिरिक्त पूरे विश्व मे वे जहां भी गये, उन पर लोमहर्षक अत्याचार हुए। पशुओ से भी बदतर व्यवहार किया गया।
क्या क्या नही सहा!!
अपने उन 2500 वर्षों के दुर्दिनो के कटु अनुभवो को उन्होंने भुलाया नही। महाकाव्यो मे जगह दी P2
गीत बनाये।
हृदय मे संजोकर रखा।
सुबह शाम मंत्र की तरह पाठ किया और कठोर परिश्रम करते हुए बीच मे जब भी सुस्ताने को बैठे, उस दर्द भरे गीत के साथ चार आँसू बहाकर चिंगारी जलती रखी

यदि भारत मे हिंदुओ पर हुए अत्याचारो का ऐसा ही लेखा जोखा रखा जाता तो समुद्रो जितनी स्याही कम पड़ जाती
Mar 13, 2022 6 tweets 2 min read
P26
ऐसे ही 1989 से 1992 के बीच 6 बार ईसाई मिशनरी स्कूलो पर आतंकियो ने बम धमाके किए।
ये कहानियाँ आज क्यों!
इन कहानियो को अभी कहने का मतलब क्या है?
इन कहानियो को अभी कहने का मतलब मात्र यह है कि इसमें से 99% कहानियो के पात्रो का नाम आपको याद भी नही होगा। इसलिए, इन्हे इनके शीशे की P27
तरह साफ दृष्टिकोण मे मै आपको बताना चाहती हूँ कि
शाब्दिक भयावहता जब इतनी क्रूर है तो उनकी सोचिए जिनके साथ ऐसा हुआ होगा?
ये किसी फिल्म के दृश्य नही है जहाँ नाटकीयता के लिए आरी से किसी को काटा जाता है
किसी की खोपड़ी मे लोहे का रॉड ठोक दिया जाता है
किसी की आँखें निकाल ली जाती है
Mar 13, 2022 25 tweets 6 min read
'द कश्मीर फाइल्स' के बहाने-
कश्मीर के हिन्दू नरसंहार की 20 नृशंस कहानियाँ
विवेक अग्निहोत्री के फिल्म निर्देशन से परे, (मैंने फिल्म नहीं देखी है, तो अभी समीक्षा नहीं करूँगी)
ये कुछ कहानियाँ है जिनके बारे मे मैंने 2020 की जनवरी में लिखा था। अगर आप फिल्म देखने जा रहे है तो ये P2
कहानियाँ पढ़ कर जाइए।
मै अगर फिल्म देखूँगी तो उसकी समीक्षा भी फिल्म के आधार पर ही करूँगी
परंतु कुछ कहानियाँ कही जानी चाहिए। चर्चा आवश्यक है।
25 जून 1990 गिरिजा टिकू नामक कश्मीरी पंडित की हत्या के बारे मे आप जानेंगे तो सिहर जाएँगे। सरकारी स्कूल मे लैब असिस्टेंट का काम करती थी