Vशुद्धि Profile picture
क्षत्राणी हूँ ⚔️ हम Bio नहीं ‘इतिहास’ लिखते, पढ़ लेना! 🙏🏻जय श्री राम 🏹🚩
शिवा Profile picture binodKrath 🇮🇳 Profile picture Manjunath Profile picture Tejas Kashyap Profile picture 𝕺𝖇𝖑𝖎𝖛𝖎𝖔𝖚𝖘 𝕴𝖓𝖉𝖎𝖆𝖓🇮🇳 Profile picture 19 added to My Authors
Dec 2 13 tweets 5 min read
नवग्रह समिधा के नाम 🙏🏻🚩
(नवग्रह के पौधे एवं ग्रह शांति में उनके योगदान)

भारतीय ज्योतिष शास्त्र में ग्रहों को अपने अनुकूल बनाने के लिए ‘वनस्पति’ की विशेष भूमिका रही है। उसके अनुसार पेड़-पौधों लगाने और इनके हवन-पूजन से ग्रहों संबंधी कई समस्याएं दूर होती हैं।

#Thread ज्योतिष शास्त्र में ग्रहों की संख्या 9 बतायी गई है

सूय्र्यचन्द्रो मंगलश्च बुधश्चापि बृहस्पति:।
शुक्र: शनेश्चरो राहु: केतुश्चेति नव ग्रहा:।।

ऐसी मान्यता है कि इन ग्रहों की विभिन्न नक्षत्रों में स्थिति के अनुसार प्रत्येक मनुष्य पर इनके अलग-अलग प्रभाव पड़ते हैं,
Dec 1 6 tweets 2 min read
अति दुर्लभ एक ग्रंथ ऐसा भी है हमारे सनातन धर्म में “राघवयादवीयम्" 🙏🏻

जिसे आप सीधा पढ़े तो ‘रामायण’ कथा और जब उन्ही श्लोक में लिखे शब्दों को विपरीत दिशा से पढ़े तो श्रीकृष्ण ‘भागवत’ कथा सुनाई देती

यह अद्भुत क्षमता मात्र हमारी संस्कृत भाषा और सनातन धर्म में ही सम्भव है

#Thread Image जिसे दुनिया के आश्चर्यों में अवश्य ही शामिल किया जाना चाहिए।

जी हां, कांचीपुरम के 17वीं शदी के कवि ‘वेंकटाध्वरि’ द्वारा रचित “राघवयादवीयम्" एक ऐसा ही एक अद्भुत ग्रन्थ है।

इस ग्रन्थ को ‘अनुलोम-विलोम काव्य’ भी कहा जाता है। इस पूरे ग्रन्थ में केवल 30 श्लोक हैं।
Nov 29 4 tweets 2 min read
बापू का त्याग!!

मोहनदास करमचंद को पुणे के आगा खां पैलेस में कठोर कारावास (?) की सजा दी गई थी । सजा इतनी कठोर थी की बापू को स्नान करने के लिए 10 x10 (feet) के संगमरमर लगे बाथरूम में नहाना पड़ता था।

सजा इतनी कठोर थी की बापू को 8 x8 फीट के नर्म, मुलायम मखमली बिस्तर में सोने के लिए मजबूर किया जाता था ।
सजा इतनी कठोर थी की 20 एकड़ में फैले आगा खां पैलेस के हरी हरी मुलायम घास में घूमने के लिए मजबूर किया जाता था ।

सजा इतनी कठोर थी की 12 x 12 फिट के स्टडी रूम में आलीशान टेबल कुर्सी में बेहतरीन इंग्लैंड के कागज में लेखन के लिए मजबूर किया गया ।
Nov 28 13 tweets 3 min read
The Energy Channels or Nadis
(Ida,Pingala & Sushumna)

The word ‘Nadi’ comes from the root ‘Nad’ in Sanskrit means ‘hollow stalk’.It refers to the network of channels through which the energies such as prana of the physical body,the subtle body & the causal body are said to flow. Kundalini travels throughout our body by way of these three energy channels, or nadis. All three work perfectly together to integrate and balance the flow of our Kundalini.

Each also plays a specific role in maintaining our emotions, moods and physical health.
Nov 26 15 tweets 4 min read
जो जीता वही पोरस' न हो क़े ‘जो जीता वही सिकंदर' कैसे हो गया!!

ये प्राचीन सिक्का (minted 324-322 BC) इस बात का प्रमाण है कि युद्धबंदी सिकन्दर था, न कि सम्राट पोरस
फिर आख़िर सिकंदर महान कैसे हो गया?

👇🏼हाथी पे बैठे सम्राट पोरस किस तरह
#LongThread सिकंदर, जिसे यूनानी इतिहासकारों ने महान बताया, को खींच के ले जा रहे ।

सिकंदर अपने पिता की मृत्यु के बाद अपने सौतेले व चचेरे भाइयों को मारने के बाद मेसेडोनिया ( Macedonia ) के सिन्हासन पर बैठा था। उसने अपने सबसे करीबी दोस्त Cleitus को मार डाला था, उसने अपने पिता के
Nov 25 8 tweets 2 min read
Do you know who is called “Vedvyas”?

‘Ved Vyas’ is not a name, it’s a ‘Title’ given to the compiler of Vedas.

The word "Vyas" refers to the "compiler," or "arranger" and it also means "separation," or "division. Therefore, Veda Vyāsa is the title given to the Rishi (sage) who comes at the end of every Dvapara Yuga to divide and compile the one ‘Ved’ into four and compile the Puranas.

(keep in mind that currently, we are in the Kaliyuga of the 28th Mahayuga of the 7th manvantara
Nov 24 15 tweets 3 min read
The Goa Files🔥
‘Hat Katro Khamb’ of Goa
Do you know about it?

The atrocities that were faced by the Hindus of Goa.

'Hat Katro Khamb' is referred to as in Konkani, Hat means‘Hand’, Kataro means ‘Cut’ and Khambh called ‘Pillar’ which literally means a pillar where

#Thread hands were chopped.

Hath Kataro Khambh of Goa was used to tie and amputate arms of those Hindus who refused to covert to Christianity. This is blood stained history of Goa which no one wants to discuss.

We need one more file on Goa like the Kashmir Files to expose
Nov 15 17 tweets 4 min read
भगवान् श्री राम का वनवास सिर्फ चौदह वर्ष ही क्यों? क्यों नहीं चौदह से कम या चौदह से ज्यादा ?

माता कैकयी ने महाराज दशरथ से “भरत जी को राजगद्दी” और “राम को चौदह वर्ष का वनवास” माँगा

भगवान् राम ने एक आदर्श पुत्र, भाई, शिष्य, पति, मित्र और गुरु बन कर ये ही दर्शाया की व्यक्ति को रिश्तो का निर्वाह किस प्रकार करना चाहिए।

भगवान राम का दर्शन करने पर हम पाते है कि अयोध्या हमारा शरीर है जो की सरयू नदी यानि हमारे *मन* के पास है। अयोध्या का एक नाम अवध भी है। (अ वध) अर्थात जहाँ कोई या अपराध न हों। जब *इस शरीर का चंचल मन सरयू सा शांत हो जाता है
Nov 12 15 tweets 3 min read
What is the importance of 'Parikrama' or 'Pradakshina' and their number in Hindu Dharm🙏🏻

Parikrama (circumambulation) or Pradakshina is a ritual in Hinduism and some other religions in which a person circumambulates around a person or a thing in a clockwise direction. 'Pari’ in Sanskrit means ‘around,’ and ‘Krama’ means ‘going’. Therefore, the word Parikrama means going around. Pradakshina comprises two words, viz. ‘Pra’ and ‘Dakshina (right), which means ‘to the right’.

Many of us go to the Devalay (Temple) to have a darshan of the Deity.
Nov 11 12 tweets 2 min read
Analogy between Human (body) and Veena (instrument)

Daive Veena and Manushi Veena!

There are many resemblances between the human body (God made Veena) and man made Veena. These secrets are revealed in a book by name, “SANDHYA VANDANEEYA TATVARTHA” and “VEDA PRAKASIKE” Image written and published by ‘Mr Yeda Torey Subramanya Sarma’ in the Kannada language in the year 1936. Many secrets of Veena were mentioned in this book. A few points are mentioned here

Veena has 24 frets with 4 strings along the frets and 3 strings at the side.
Nov 5 19 tweets 4 min read
चौरासी लाख (८४००००० ) योनियों का रहस्य!!

हिन्दू धर्म में पुराणों में वर्णित ८४००००० योनियों के बारे में आपने कभी ना कभी अवश्य सुना होगा। हम जिस मनुष्य योनि में जी रहे हैं वो भी उन चौरासी लाख योनियों में से एक है।

गरुड़ पुराण में योनियों का विस्तार से वर्णन दिया गया है। एक जीव, जिसे हम आत्मा भी कहते हैं, इन ८४००००० योनियों में भटकती रहती है। अर्थात मृत्यु के पश्चात वो इन्ही चौरासी लाख योनियों में से किसी एक में जन्म लेती है

ये तो हम सब जानते हैं कि आत्मा अजर एवं अमर होती है इसी कारण मृत्यु के पश्चात वो एक दूसरे योनि में दूसरा शरीर धारण करती है।
Nov 3 13 tweets 3 min read
किसके पास था कौन-सा दिव्य धनुष 🙏🏻🏹

1 भगवान शिव– पिनाक धनुष शिव जी को अर्पित किया गया था. पिनाक को अजगव भी कहा गया है. शिव जी के पास और भी कई धनुष थे. त्रिपुरांतक धनुष से उन्होंने मयासुर द्वारा बनाए त्रिपुर को नष्ट किया था. शिव जी के पास रुद्र नामक एक और धनुष का उल्लेख भी मिलता है जिसे बाद में भगवान बलराम ने प्राप्त किया था.

2 भगवान विष्णु– शांर्डग्य (शारंग) धनुष विष्णु जी को अर्पित किया गया था जिसे उन्होंने धारण किया. इसे शर्ख के नाम से भी जाना गया. यह धनुष भगवान परशुराम और योगेश्वर श्री कृष्ण ने प्राप्त किया था.
Nov 2 14 tweets 3 min read
WHY WE SHOULD VISIT TEMPLES!

There are thousands of temples all over India of different sizes, shapes & locations but not all of them r considered to be built in the Vedic way.

Generally, a temple should be located at a place where the earth's magnetic wave path passes densely It can be in the outskirts of a town/village or city, in the middle of the dwelling place, or on a hilltop.

Now, these temples are located strategically at a place where the positive energy is abundantly available from the magnetic and electric wave distributions of
Nov 1 12 tweets 2 min read
The 14 Lokas Of Hinduism 🚩

Lok is a Sanskrit term meaning "world" or "a particular division of the Universe."
The most common division of the universe in Hinduism is the Trailokya (tri-lok): Heaven (Swarg), Earth (Martya) and Netherworld (Patal) In the Puranas and the Atharvaveda, there are 14 worlds are enumerated: 7 above the earth (Vyahrtis) and 7 below (Pātālas)

14 Lokas: (7 Upper)
1.Satya-Lok (Brahma-Lok)
2.Tapa-Lok
3.Jana-Lok
4.Mahar-Lok
5.Svar-Lok (Svarga-Loka)
6.Bhuvar-Lok
7.Bhu-Lok
Oct 29 11 tweets 3 min read
हीरा दे : मातृभूमि को समर्पित पाषाणहृदय क्षत्राणी

संवत 1368 (सन 1311) वैशाख का महीना (April/May) जबकि पत्थर भी पिघल रहे थे दरवाज़े पर एक दस्तक हुई , हीरा-दे ने दरवाजा खोला। पसीने में नहाया उसका पति ‘विका दहिया’ एक पोटली उठाये उसके सामने खड़ा था। उसका काँपता शरीर और लड़खड़ाता स्वर ये कहावत कह रहा था “चोर या तो नैण से पकड़ा जावे है या फिर वैण से”
और उस पर हीरा-दे तो क्षत्राणी थी, वह पसीने की गंध से अनुमान लगा सकती थी कि यह पसीना रणक्षेत्र में खपे पराक्रमी का है या भागे हुए गद्दार का।
Oct 22 18 tweets 5 min read
नवरत्नों को रखने की परंपरा महान सम्राट विक्रमादित्य से ही शुरू हुई है जिसे बाद में मुग़ल बादशाह अकबर ने भी अपनाया था।

परंतु हमें जो इतिहास पढ़ाया गया उसमें विशिष्ट श्रेणी के इतिहासकारों ने अकबर के ही नव रत्नों का माहिमा मण्डन हर स्थान पे किया। सम्राट विक्रमादित्य के नवरत्नों के नाम शायद ही कुछ लोग जानते होंगे

विक्रमार्कस्य आस्थाने नवरत्नानि :~

“धन्वन्तरिः क्षपणकोऽमरसिंहः शंकूवेताळभट्टघटकर्परकालिदासाः।
ख्यातो वराहमिहिरो नृपतेस्सभायां रत्नानि वै वररुचिर्नव विक्रमस्य॥”
Oct 20 25 tweets 5 min read
संस्कृत श्लोक- मंत्र एवं उससे जुड़े गणितीय-ज्यामिति तथ्य

हमारे देश में एक ऐसा वर्ग है जो कि संस्कृत भाषा से तो अनभिज्ञ हैं परंतु उसके बारे ग़लत धारणा बनाने और देव वाणी का उपहास बनाने से पीछे नहीं

उनकी सोच ये है की संस्कृत भाषा में  जो कुछ भी लिखा है वो सब पूजा पाठ के मंत्र ही होंगे जबकि वास्तविकता इससे बिल्कुल अलग है।

आइए देखते हैं -

"चतुरस्रं मण्डलं चिकीर्षन्न् अक्षयार्धं मध्यात्प्राचीमभ्यापातयेत्।
यदतिशिष्यते तस्य सह तृतीयेन मण्डलं परिलिखेत्।"

बौधायन ने उक्त श्लोक को लिखा है !

इसका अर्थ है -
Oct 19 6 tweets 2 min read
Significance Of Breaking The Pot During Cremation Ritual In Hinduism!

Carrying water pot during cremation is a ritual in many Hindu communities and it has a deep symbolism. The person designated to light the pyre goes around the pyre with water pot on his shoulder A hole is made in the water pot so that the water flows out and falls around the funeral pyre. Finally, the water pot is dropped hardly backwards and it break

This is performed to give the message to the soul of the dead person that it is time to leave the body.
Oct 17 19 tweets 4 min read
The Healing Power Of Music !

Indian music has seven notes or swaras/vibes – Shadjamam, Rishabham, Gandharam, Madhyamam, Panchamam, Dhivatham and Nishadham (Sa, Re, Ga, Ma, Pa, Da & Ne)

Music is a feeling or emotion.
For a right-handed person, the left side of the brain receives Image and processes the lyrics and right side gets involved with melodies.
Rhythm perception and processing are also functions of the right brain.

So, in any classical music where only instruments are involved, wind or strings, along with percussions, the musical
Oct 11 9 tweets 2 min read
Remembering Baji Rout (Youngest martyr in the history of the freedom movement of India) on his death Anniversary 🙏🏻🇮🇳

He was shot by the British police for refusing to ferry them across the Brahmani river on the night of October 11, 1938, at Nilakanthapur Ghat, Bhuban, Odisha let us know about his valour and courage.

1. He was born on October 5, 1926, at Nilakanthapur village in Dhenkanal district of Odisha.

2. Baji Rout lost his life to the bullet of a British soldier at the age of 12.
Oct 9 12 tweets 3 min read
अकबर द्वारा माँ ज्वाला देवी जी को भेंट किया गया सोने का क्षत्र का सच !!

हमारे देश के अति विशिष्ट श्रेणी के इतिहासकारों और उनकी मनगढ़ंत कहानियों और मुग़लों की सोची समझी प्रशंसा का एक और उदाहरण

हिमाचल में माँ भगवती ज्वाला जी का प्रसिद्ध मंदिर है जोकि कांगड़ा से लगभग 30 किलो मीटर स्थित है

ये मंदिर अतिप्राचीन और हिन्दुओं की 51 शक्ति पीठ में से एक है। मंदिर में कोई मूर्ति नहीं है। यहां पर पृथ्वी के गर्भ से 9 अलग अलग जगह से ज्वालाएं निकलती रहती हैं जिसके ऊपर ही मंदिर का निर्माण किया गया।