Kuldeep Singh Profile picture
चड़दी कला
21 Feb
अगर मुझे हमारे देश की तुलना किसी देश से करनी होगी तो मैं जापान से करूँगा पूरे विश्व में परमाणु बम की मार झेलने वाला अकेला देश है मगर शिक्षा, स्वास्थय, तकनीकी, आर्थिक, राजनीतिक स्थिति में हमसे कही आगे है जापान पर 1945 में हमला हुआ और हम 1947 में आज़ाद हुये
उनकी सकारात्मक सोच का ही नतीजा है कि वे परमाणु हमला करने वालों देशों से भी कोई द्वेष नहीं रखते और हम उठते बैठते एक ही देश का नाम रटते रहते हैं जो मानव विकास में बहुत पिछड़ा हुआ है
होना तो चाहिए कि देश का हर नागरिक स्वस्थ हो, कर्म करने को तत्पर हो और हर व्यक्ति को रोज़गार
उपलब्ध हो। हर व्यक्ति इस मंशा से अपना उत्तरदायित्व पूरा करे जैसे कि देश को मज़बूत करने की ज़िम्मेदारी उसे ही दी गयी है
हमारी शिक्षा ऐसी हो जो हमें केवल किताबी ज्ञान तक सीमित न रखे बल्कि हर सीखने वाले का बौद्धिक विकास करे ताकि कोई भूखा रहकर मरने की बात न करे
Read 15 tweets
6 Feb
आज आप लोगों को जबरदस्त बोर करने का मन कर रहा है
Some of the problems faced by Bankers

1. Aadhar is not mandatory for Bank Account opening but it is must to avail all government social schemes and all government benefits are passed through bank accounts
Every person has Bank accounts in 2-3 Banks and availing different govt benefits in different accounts
Once customer seed Aadhar in one Bank, his Aadhar number from previous bank account will be deleted by NCPI
This make customers to visit branch again and again and staff
have to seed number in Bank account every time.
This not only increase work load of staff but also develop acrimony between staff and customers

2. There are cases of name mismatch of customer in different documents
While opening a bank account or any other bank services onus
Read 13 tweets