Ayush Vedant Profile picture
बिहारी, बकैती और बेबाकी को ब्लेंडर के साथ थोड़ा सा भूमिहारी प्राइड मिलाकर बनाया हुआ बवाल कॉकटेल हैं हम
3 May
विपरीत सेक्स के प्रति आकर्षण होना कोई अनोखी बात नहीं है, ज्यादातर स्त्री और पुरुषों में ऐसा होना आम बात है है, एक दौड़ था जब लोगों को एक दूसरे से बात करने के लिए मिलना जुलना पड़ता था, चिट्ठियों का सिलसिला तो आम बात हुआ करती थी, उस दौड़ की प्रेम कहानियां आज के समय में अजूबा है,
हमारे लिए ऐसा सोचना भी बेहद मुश्किल प्रतीत होने लगा है की बिना सोशल मीडिया के हम कैसे रह पाएंगे, सोशल मीडिया है भी ऐसी जगह, आपको हर प्रकार का मनोरंजन यहां काफी सरलता से उपलब्ध हो जाता है और आपको इस आभासी दुनिया में अपनी सोच से व पसंद के लोग भी बेहद ही आसानी से मिल जाते हैं
जिसका यह फायदा हुआ है की अब आप अपने आस पड़ोस से हटकर भी कुछ ऐसे मित्रों को ढूंढ पाने में सफल हुए हैं जो आपके स्वभाव से बिल्कुल मेल खाते हों।
Read 16 tweets